लाइफ स्टाइल हेल्थ & ब्यूटी

हर व्यक्ति के व्यायाम को मजेदार बनाता है जुम्बा

TAC : देश के नागरिक लॉकडाउन के दौरान कोरोना के खिलाफ जंग में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे रहे हैं। इनमें कुछ ऐसे लोग भी हैं, जो घरों में रहकर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करते हुए दूसरे लोगों को फिट रखने में सहयोग कर रहे हैं।

उषा राजवंशी

ऐसी ही एक शख्सियत का नाम है उषा राजवंशी। गुरुग्राम के सेक्टर-102 स्थित आरओएफ सोसायटी में रहने वाली उषा राजवंशी जुम्बा की एक्सपर्ट ट्रेनर हैं तथा लॉकडाउन के दौरान अपने घर में रहकर लोगों को ऑनलाइन क्लासिज के माध्यम से फिट रखने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे रही हैं। उषा ने जुम्बा का प्रशिक्षण यूएसए की कम्पनी *जुम्बा.कॉम (जिन)* से लिया है तथा वे पिछले 7 वर्षों से लोगों को जुम्बा के जरिए फिट रखने का कार्य कर रही हैं। वे गुरुग्राम स्थित एक मल्टीनेशनल कम्पनी में काम करती हैं तथा अपने व्यस्तम समय में से कुछ समय निकालकर लोगों को जुम्बा के जरिए फिट रखने में अपना योगदान दे रही हैं।

उषा राजवंशी के अनुसार जिन लोगों ने जुम्बा के बारे में नहीं सुना है, उनके लिए यह एक लैटिन नृत्य शैली है, जिसका उद्भव फिटनेस समाज बनाने के लिए किया गया था। जुम्बा एक संपूर्ण शारीरिक व्यायाम है, जो प्रत्येक सत्र में बड़ी संख्या में कैलोरी कम करने में मदद करता है, जिससे व्यक्ति को अपना वजन कम करने, लचीलापन प्राप्त करने और टोंड पाने में मदद मिलती है। इन सबसे ऊपर, यह सभी समूहों के लिए फिटनेस मजेदार और उपयुक्त माध्यम है। जुम्बा के 60 मिनट के वर्कआउट से औसतन 369 कैलोरी जलती है, जो कि कार्डियो किकबॉक्सिंग या स्टेप एरोबिक्स से अधिक है। बेहतर तरीके से कार्डियो वर्कआउट करने से वसा पिघलता है, जो आपके कोर को मजबूत करता है तथा लचीलेपन में सुधार करता है।

जिम बहुत कठिन है और दैनिक जीवन में कई बार हम चूक भी जाते हैं। फिटनेस जीवन का एक तरीका है, इसलिए प्रत्येक व्यक्ति को फिटनेस के लिए एक ऐसी गतिविधि जरूर अपनानी चाहिए, जिसे जारी रखना आसान हो। उषा के लिए वह गतिविधि जुम्बा है। यह तय करने के लिए की जुम्बा आपके लिए सबस प्यारा एवं सही वर्कआउट रूटीन है या नही आपको कुछ बिंदुओं पर गौर करने की जरूरत है। इनमें जैसे कि आपको डांस करना पसंद है और समूह वर्कआउट में आप कितने सहज हैं। सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि क्या आप अपने जीवन महान सकारात्मक बदलाव लाने के लिए तैयार हैं।

Related posts

क्वालिटी काउंसिल ऑफ़ इंडिया की ओर से किए गए सर्वे के अनुसार फरीदाबाद जिला प्रवासी मजदूरों की शिकायतों का निवारण करने में देश में प्रथम।

NCR Bureau

कोरोना वायरस से बचाव के लिये फरीदाबाद में बनाए गए 12 कंटेनमेंट जोन।

NCR Bureau

मानसून मे त्वचा का रखे खास ख़्याल

TAC Hindi

कोरोना महामारी और संबंधों का महत्व

TAC Hindi

तनाव है तो होने दे, इसमें बुरा क्या है?

TAC Hindi

योग के साथ योगा, आज की जरूरत

TAC Hindi

Leave a Comment