Breaking News राजनीति

जब केन्द्रीय मंत्री राव इंद्रजीत के विरोध मे लगे नारे

राजनीति मे कोई किसी का सगा नहीं होता तो कोई किसी का दुश्मन भी नहीं होता। राव साहब के पीछे पीछे काँग्रेस से भाजपा मे शामिल होते समय शर्मा जी में ग़ज़ब का उत्साह रहा होगा। पर समय बीतने के साथ ये यारी अब टूटती नज़र आ रही है। 75 पार का नारा देने वाली हरियाणा भाजपा उत्साह से लबरेज़ है। होने वाले विधान सभा चुनाव के लिए भाजपा ने सभी 90 सीटो की उम्मीदवारी फ़ाइनल कर दी है। इस बार कई मौजूदा विधायको के पर मतलब टिकिट काट दिये गए है। तो कुछ के स्थान बदल दिये है। संगठित भाजपा के कई कार्यकर्ताओ को इस बार की टिकिट वितरण प्रणाली गले से नहीं उतर रही है।
TAC Hindi News

राव साहब का गड समझे जाने वाले रेवाड़ी और गुड़गाँव मे शायद राव साहब की बिलकुल नहीं चली इसीलिए उनके खास जीएल शर्मा और उनके समर्थक केन्द्रीय मंत्री के विरोध मे सड़क पर उतर आए है।

प्रदेश के दूसरे हिस्सों की तरह गुरुग्राम में भी भाजपा के टिकट वितरण का विरोध शुरू हो गया है। टिकट के प्रबल दावेदार माने जा रहे वरिष्ठ भाजपा नेता जीएल शर्मा को टिकट नहीं दिए जाने पर जगह-जगह विरोध प्रदर्शन हुए। भाजपा युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं ने जीएल शर्मा को टिकट नहीं दिए जाने पर सदर बाजार में आक्रोश प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने जीएल शर्मा की टिकट कटने के लिए स्थानीय सांसद एवं केंद्रीय मंत्री राव इंद्रजीत को जिम्मेदार ठहराते हुए राव का पुतला दहन किया तथा भाजपा की सदस्या छोडऩे का ऐलान किया।

कार्यकर्ता डाकखाना चौक पर एकत्रित हुए और यहां से जुलूस की शक्ल में सदर बाजार पहुंचे। राव इंद्रजीत हाय, हाय, राव इंद्रजीत मुर्दाबाद के नारों के साथ कार्यकर्ताओं ने राव पर कई गंभीर आरोप लगाए। आक्रोश प्रदर्शन की अगुआई कर रहे शीतला मंडल शक्ति केंद्र प्रमुख प्रतीक शर्मा ने कहा कि जीएल शर्मा जैसे ईमानदार, कर्मठ, समर्पित और निष्ठावान कार्यकर्ता की टिकट काटकर भाजपा ने हजारों कार्यकर्ताओं की भावना से खिलवाड़ किया है। प्रतीक ने कहा कि पिछले एक दशक से जीएल शर्मा पार्टी के हर आदेश को कर्तव्य समझकर माना है। जो भी जिम्मेदारी पार्टी ने दी, उसे पूरी शिद्दत से निभाया है। बीते लोकसभा चुनाव हो या उससे पहले विभिन्न राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव की जिम्मेदारी। विधानसभा चुनाव की घोषणा से पूर्व पूरे प्रदेश में निकाली गई मुख्यमंत्री की जन आक्रोश रैली में जीएल शर्मा ने अपनी जिम्मेदारी को पूरी ईमानदारी से निभाया, लेकिन पार्टी ने उनके समर्पण और ईमानदारी का ईनाम टिकट काट कर दिया। भाजयुमो के शीतला मंडल महामंत्री महिपाल सहारण ने कहा कि जीएल शर्मा की टिकट कटने के पिछे पूरी तरह सांसद राव इंद्रजीत का हाथ है। पार्टी ने इंद्रजीत के दबाव में गुरुग्राम की नहीं, दक्षिण हरियाणा के मेहनती और समर्पित कार्यकर्ताओं की भावना पर कुठाराघात किया है। ससी मोर्चा के महामंत्री ईशू बाल्मिकी, शीतला मंडल के मंत्री ब्रिजेश मिश्रा, अर्जुन मंडल युवा मोर्चा के अध्यक्ष मुनेश वशिष्ठ, एससी मोर्चा के शीतला मंडल एससी मोर्चा के अध्यक्ष अनमोल मंडल, दीपक चावला, पारस बक्शी आदि ने कहा कि राव इंद्रजीत स्वार्थ के लिए भाजपा में शामिल हुए थे। अपनी बेटी को टिकट दिलाने के लिए उन्होंने पार्टी के साथ कार्यकर्ताओं की भावना से खिलवाड़ किया है। नगर निगम चुनाव में भी उन्होंने अपनी स्वार्थ सिद्धी के लिए पार्टी को धोखा दिया। उन्होंने कांगे्रस नेता की पत्नी को सीनियर डिप्टी मेयर बनवाया। उनकी हर गतिविधि हमेशा ही पार्टी विरोधी रही है। पार्टी को अपमानित करने का वो कोई मौका नहीं छोड़ते। अब उनके समर्थक सोशल मीडिया पर पार्टी के लिए अभद्र भाषा का इंस्तेमाल कर रहे हैं। समर्थक यहां तक पोस्ट कर रहे हैं कि राव साहब ने विश्व की सबसे बड़ी पार्टी को अपने कदमों में झुकाया। ऐसे नेता को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखाना चाहिए। इन लोगों ने पार्टी की सदस्या छोडऩे के साथ ही चुनाव में भाजपा के विरोध में प्रचार करने करने का ऐलान किया।

Related posts

भाजपा नेताओ ने 5 साल तक जनता को लूटा: आर॰एस॰ राठी

TAC Hindi

बिना 75 पार बनी मनोहर सरकार

TAC Hindi

दौर-ए-इलेक्शन में कहाँ कोई इंसान नज़र आता है

TAC Hindi

कन्या: पूजा से भोग की वस्तु तक

TAC Hindi

कलाकार राजेश पंडित हुये भाजपा के

TAC Hindi

हरियाणा चुनाव: ख़ास के विरुद्ध आम आदमी की हुंकार

TAC Hindi

Leave a Comment