ख़बरें

कोविड-19 लॉक डाउन: जरूरतमन्द को भोजन और जमाखोरो पर सख्त गुरुग्राम प्रशासन

गुरुग्राम: कोविड-19 लॉक डाउन के दौरान गुरुग्राम जिला प्रशासन 172000 प्रवासी श्रमिकों तथा जरूरतमंद लोगों को हर रोज पके पकाए भोजन के पैकेट तथा सूखा राशन उपलब्ध करवा रहा है ताकि इस आपदा की स्थिति में इन परिवारों को भूखा ना रहना पड़े। जरूरतमंद लोगों के लिए प्रशासन द्वारा 77 रिलीफ सेंटर अथवा शेल्टर होम चलाए जा रहे हैं।

लॉक डाउन के दौरान राहत कार्यों के लिए प्रशासन के अमले का नेतृत्व कर रहे गुरुग्राम के उपायुक्त अमित खत्री ने बताया कि जरूरतमंदों तथा प्रवासी श्रमिकों के परिवारों तक पका पकाया भोजन तथा सूखा राशन पहुंचाने की व्यवस्था की गई है। उन्होंने बताया कि अकेले नगर निगम गुरुग्राम के अधिकार क्षेत्र में 56 रिलीफ सेंटर बनाए गए हैं जबकि 2 रिलीफ कैंप सोहना और 4 रिलीफ कैंप पटौदी क्षेत्र में चल रहे हैं। इनके अलावा, जिला के 15 रिलीफ कैंप ग्रामीण क्षेत्र में चलाए जा रहे हैं। रिलीफ कैंप में रहने वाले लोगों को दिन में दो बार भोजन उपलब्ध करवाया जा रहा है । इन रिलीफ कैंपों के अलावा स्लम एरिया में और जहां प्रवासी श्रमिक या अन्य गरीब परिवार रहते हैं, वहां पर भी पका पकाया भोजन अथवा सूखा राशन पहुंचाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि औसतन हर रोज जिला में 168000 से अधिक पके पकाए भोजन के पैकेट तथा लगभग ढाई हजार सूखा राशन के पैकेट जरूरतमंदों में वितरित किए जा रहे हैं।

उन्होंने बताया कि भोजन तथा सूखे राशन का वितरण अलग अलग तरीके से किया जा रहा है । उदाहरण के तौर पर इस कार्य में नगर निगम की मेयर तथा निगम पार्षदों का सहयोग लिया जा रहा है जिनके माध्यम से प्रतिदिन भोजन तथा सूखा राशन जरूरतमंदों में वितरित हो रहा है। इसके अलावा, दिहाड़ी दार मजदूरो, प्लंबर, रेहड़ी-फड़ी वालों, रिक्शा चालकों या अन्य जो भी व्यक्ति प्रशासन के हेल्पलाइन नंबर 1950 पर भोजन पहुंचाने की मांग करता है, वहां पर भी जांच पड़ताल के बाद भोजन के पैकेट पहुंचाए जा रहे हैं। यह कार्य नगर निगम के अधिकारियो, जिला रेडक्रॉस सोसायटी तथा सिविल डिफेंस के वॉलिंटियर्स द्वारा किया जाता है। नगर निगम क्षेत्र में रिलीफ सेंटर अथवा राहत केंद्रों में भोजन पहुंचाने तथा उनके रखरखाव की जिम्मेदारी कार्यकारी अभियंता स्तर के अधिकारियों को दी हुई है।

उन्होंने बताया कि राहत कार्यों में जिला की बहुत सारी एनजीओ, कम्युनिटी किचन तथा गुरुद्वारा आदि भी सहयोग कर रहे हैं। उपायुक्त के अनुसार अकेले नगर निगम क्षेत्र में 12 ऐसी संस्थाएं जरूरतमंद लोगों को खाना खिलाने में सहयोग दे रही हैं। इनमें डीएलएफ फाऊंडेशन का काफी सहयोग है, नीड्स एनजीओ को बादशाहपुर क्षेत्र के स्लम एरिया में खाना पहुंचाने की जिम्मेदारी दी गई है और जनता कीचन को नाथूपुर एरिया में स्थित स्लम एरिया में खाना पहुंचाने की जिम्मेवारी सौंपी गई है। इसी प्रकार, सब्जी मंडी के पास स्थित गुरुद्वारा सिंह सभा तथा सेक्टर 39 के गुरुद्वारा द्वारा भी लोगों को खाना खिलाने में सहयोग दिया जा रहा है। नगर निगम क्षेत्र में नगर निगम गुरुग्राम के आयुक्त विनय प्रताप सिंह के मार्गदर्शन में अतिरिक्त निगमायुक्त महावीर प्रसाद कथा हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण के संपदा अधिकारी विवेक कालिया की देखरेख में खाने का वितरण करवाया जा रहा है।

उपायुक्त ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र में जिला प्रशासन के संसाधनों के अलावा ग्राम पंचायत भी काफी सहयोग दे रही हैं। उदाहरण देते हुए उन्होंने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र में 36 जगह फूड कैंप चलाए जा रहे हैं जिनमें से 15 रिलीफ कैंप हैं अर्थात जहां पर लोग ठहर भी सकते हैं। अकेले ग्रामीण क्षेत्र में प्रतिदिन लगभग 44000 फूड पैकेट बांटे जा रहे हैं, जिसमें लगभग 20,000 पैकेट डीएलएफ फाउंडेशन की ओर से उपलब्ध करवाए जा रहे हैं, इफको एनजीओ द्वारा 2000 और अशोक सिंघल फाउंडेशन एनजीओ द्वारा 5000 पैकेट दिए जा रहे हैं। बाकि व्यवस्था जिला की 13-14 पंचायतों द्वारा गांवो के मौजीज़ और दानवीर व्यक्तियों के सहयोग से भोजन दिया जा रहा है, जिनके साथ जिला विकास एव पंचायत अधिकारी नरेंद्र सारवान तालमेल करते हैं। उपायुक्त ने जिला की स्वयंसेवी संस्थाओं तथा ग्राम पंचायतों का इस सहयोग के लिए आभार जताया है। इसी प्रकार, सोहना शहरी क्षेत्र में दो शेल्टर होम चलाए जा रहे हैं जिनमें लगभग 3000 लोगों को प्रतिदिन खाना खिलाया जा रहा है। पटौदी और हेली मंडी नगरपालिका क्षेत्रों में एक-एक शेल्टर होम तथा फर्रुखनगर में 2 शेल्टर होम चलाए जा रहे हैं, जहां हर रोज 700 से 800 लोगों को खाना उपलब्ध करवाया जा रहा है।

उपायुक्त श्री खत्री ने गुरुग्राम जिला वासियों से अपील की है कि वे प्रवासी श्रमिकों, दिहाड़ी दार मजदूरों तथा प्रतिदिन काम करके रोजी रोटी कमाने वाले लोगों, जिनके सामने अब रोटी का संकट आ गया है, उनकी उदारता से मदद करें क्योंकि गुरुग्राम के विकास में उनका भी बहुमूल्य योगदान है। इस संकट की घड़ी में सभी लोग अपने घरों के अंदर रहें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें और जिला प्रशासन के साथ भी अपना पूरा सहयोग बनाये रखें।

जमाखोरो पर सख़्त गुरुग्राम प्रशासन

गुरूग्राम: जिला प्रशासन का जमाखोरी करने वालों के खिलाफ अभियान लगातार जारी है ।इसी कड़ी में आज जिला प्रशासन ने 17 दुकानदारों के यहां छापामारी की जिनमें से दो विक्रेताओं का अनियमितता पाए जाने पर चालान किया गया।

इस बारे में जानकारी देते हुए उपायुक्त अमित खत्री ने बताया कि जिला प्रशासन की टीम रोज की तरह आज भी फील्ड में गई और जिला में 17 दुकानदारों व विक्रेताओं के यहां छापामारी की। उन्होंने बताया कि आज टीम ने सेक्टर- 4 में दो विक्रेताओं के यहां छापेमारी करते हुए उनका चालान किया। सेक्टर -4 स्थित इजी डे तथा रिलायंस में सामान तोलने पर लिखित वजन से कम वजन का मिला , जिसके चलते दोनों के चालान किए गए। उपायुक्त ने कहा कि यह गंभीर विषय है जिसके चलते दोनों विक्रेताओं के खिलाफ कार्यवाही करते हुए उनके चालान किए गए। उपायुक्त ने कहा कि टीम द्वारा रोजाना छापेमारी करने के बावजूद भी कुछ दुकानदार निजी स्वार्थ का परिचय देते हुए लोगों की मजबूरी का फायदा उठा रहे हैं। उन्होंने ग्रोसरी स्टोर संचालकों व दुकानदारों से अपील करते हुए कहा कि वे निर्धारित दरों पर ही खाद्य पदार्थों को बेचे अन्यथा उनके खिलाफ नियमानुसार कार्यवाही होना तय है। उन्होंने स्पष्ट रूप से कहा कि जमाखोरी तथा निर्धारित दरों से अधिक मूल्य पर सामान बेचने वालों को किसी हाल में बख्शा नहीं जाएगा और उन पर नियमानुसार कड़ी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि जिला में एक ओर जहां स्वयंसेवी संस्थाएं तथा समाजसेवी लोग जिला प्रशासन की मदद के लिए आगे आ रहे हैं और जरूरतमंद लोगों को निशुल्क भोजन उपलब्ध करवा रहे हैं, वहीं कुछ दुकानदार लोगों की मजबूरी का फायदा उठा रहे हैं जो कि उनके अमानवीय व्यवहार को दर्शाता है।

उन्होंने कहा कि हम सभी को इस दौरान एक दूसरे की मदद करनी चाहिए और एकजुटता का परिचय देना चाहिए।
उन्होंने आमजन से भी अपील करते हुए कहा यदि कोई दुकानदार या विक्रेता जमाखोरी करता है या बिना एमआरपी या निर्धारित मूल्य से अधिक दरों पर सामान बेचता है तो तुरंत मामला जिला प्रशासन के संज्ञान में लाएं ताकि संबंधित व्यक्ति के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जा सके।

Related posts

काँग्रेस का मेरा “गर्व मेरा बूथ” कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन

TAC Hindi

गुरूग्राम में लगाया गया पहला वाटर ट्रीटमेंट एक्सपो-2019

TAC Hindi

ईवॉलेट ने लॉन्च किया ई-स्कूटर ब्रांड, गुरुग्राम पुलिस को मिले 5 ई-स्कूटर

TAC Hindi

कोरोना के बढ़ते मामलो पर मुख्यमंत्री ने जताई चिंता, कहा सरकारी कर्मचारी ना करें हड़ताल

TAC Hindi

पानी की बूंद बूंद बचाने के लिए बनेगी पॉलिसी: मुख्यमंत्री खट्टर

TAC Hindi

ऐतिहासिक होगी रोहतक में जन सम्मान दिवस रैली: बलदेव अलावलपुर

TAC Hindi

1 comment

immocrece June 22, 2021 at 3:20 pm Reply

Leave a Comment